शिक्षाशास्त्र

विभिन्न स्तरों के लिए इतिहास के पाठ्यक्रम की रूपरेखा | History Syllabus Outline for Different Levels in Hindi

विभिन्न स्तरों के लिए इतिहास के पाठ्यक्रम की रूपरेखा | History Syllabus Outline for Different Levels in Hindi

विभिन्न स्तरों के लिए इतिहास के पाठ्यक्रम की रूपरेखा

[कक्षा 1 के लिए]

(1) स्थानीय इतिहास एवं परम्पराएँ ।

(2) प्राचीनकाल के मनुष्यों की कहानियाँ- गुफा, पीतल तथा लौह-काल के आदमियों का जीवन एवं उनके रीति-रिवाज।

(3) व्यावहारिक कार्य- स्थानीय ऐतिहासिक स्थानों का भ्रमण, अभिनय, हस्त-कार्यं ।

[कक्षा 2 के लिए]

(1) स्थानीय परम्पराओं का ज्ञान ।

(2) प्राचीन संस्कृति की कहानियाँ- बेबीलोनियन, मोहनजोदड़ो, आर्य सभ्यता ।

(3) व्यावहारिक कार्य – ऐतिहासिक एलबम का निर्माण और पिछली कक्षा के कार्य ।

[कक्षा 3 के लिए]

(1) राम, युधिष्ठिर, महावीर, गौतम आदि की जीवन-गाथा |

(2) अलेजेण्डर तथा उसका आक्रमण, अशोक का जीवन, महेन्द्र, कनिष्क, चन्द्रगुप्त विक्रमादित्य, होनसाग, पुलकेशिन, राजेन्द्र, चोलदेव आदि का जीवन ।

(3) व्यावहारिक कार्य- ऐतिहासिक एलबम, मानचित्र, चित्र आदि का निर्माण ।

[कक्षा 4 के लिए]

(1) पैगम्बर मुहम्मद साहब का जीवन, महमूद के आक्रमण ।

(2) पृथ्वीराज चौहान, अलाउद्दीन खिलजी, फिरोज तुगलक, चैतन्य, नानक, कबीर, महमूद गँवा, कृष्णदेव राय, अकबर तथा उसके दरबार से सम्बन्धित कहानियाँ चांदबीबी, जहाँगीर, टामस रो, शाहजहाँ, औरंगजेब, शिवाजी, बाजीराव का जीवन ।

(3) व्यावहारिक कार्य- पिछले स्तर जैसा रहेगा ।

[कक्षा 5 के लिए]

(1) क्लाइव, मोरकासिम, सिताबराय, रजाअली खान, टीपू सुल्तान, फड़न- वीस, रणजीतसिंह, प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम के मशहीदों की कहानियाँ, डेविड हेयर, राजा राममोहन राय, सैयद अहमद खा, विवेकानन्द, ऐनी बेसेन्ट, फीरोजशाह मेहता महात्मा गाँधी, जवाहरलाल नेहरू आदि की जीवन-गाथाएँ ।

(2) व्यावहारिक कार्य – पिछले स्तरों जैसा रहेगा।

[कक्षा 6 के लिए]

(1) भारतीय इतिहास के स्रोत, सिन्धु पाटी की सभ्यता ।

(2) आर्यों की सभ्यता ।

(3) महाकाव्य काल ।

(4) ब्राह्मण, जैन तथा बौद्ध धर्म ।

(5) मगध साम्राज्य तथा अलेक्जेण्डर का आक्रमण

(6) मौर्यों की सभ्यता ।

(7) मोर्यों का शासन-काल ।

(8) कुषाण साम्राज्य

(9) गुप्त साम्राज्य तथा संस्कृति ।

(10) दक्षिण का इतिहास

(11) सांस्कृतिक साम्राज्य |

(12) इस्लाम का उदय तथा मुसलमानों के आक्रमण । (1)

(13) मुस्लिम शक्ति का सुदृढ़ होना।

(14) खिजली साम्राज्य

(15) तुगलक साम्राज्य तथा दिल्ली सल्तनत का विघटन।

(16) बहमनी तथा विजयनगर साम्राज्य ।

(17) मुस्लिम काल की संस्कृति एवं उसका प्रभाव।

(18) व्यावहारिक काल-समय रेखा, समय चाटं, चित्र, एलबम, मॉडल आदि का निर्माण ।

[कक्षा 7 के लिए]

(1) बाबर ।

(2) हुमायूँ तथा शेरशाह

(3) अकबर ।

(4) जहाँगीर तथा शाहजहाँ।

(5) औरंगजेब ।

(6) मुगल साम्राज्य का विघटन ।

(7) मुगलकाल में दक्षिण का इतिहास ।

(8) मराठों का उत्कर्ष ।

(9) योरोपियनों का भारत में आगमन ।

(10) भारत में अंग्रेजी राज्य की नींव ।

(11) 1765-1817 तक अंग्रेजी शक्ति का  विस्तार ।

(12) सिखों का उत्कर्ष |

(13) ईस्ट इण्डिया कम्पनी तथा छोटी-छोटी रियासतें ।

(14) प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम |

(15) नेपाल, बर्मा, अफगानिस्तान, उत्तरी-पूर्वी सीमा तथा तिब्बत से राजनीतिक सम्बन्ध |

(16) राष्ट्रीय आन्दोलन का इतिहास, शासन सम्बन्धी सुधार, शिक्षा का प्रसार, धार्मिक आन्दोलन तथा सामाजिक सुधार, व्यापार तथा वाणिज्य |

(17) स्वतन्त्र भारत, राज्यों का एकीकरण तथा नवीन संविधान ।

(18) व्यावहारिक कार्य – पिछले स्तर की भांति कार्य चलेगा।

[कक्षा 8 के लिए]

प्रादेशिक समूहों का इतिहास तथा सामूहिक जीवन में महत्वपूर्ण आन्दोलन ।

[ कक्षा 9 के लिए]

(1) पाश्चात्य सभ्यता में मुख्य आन्दोलन

(i) पुनरुत्थान तथा सुधार ।

(ii) फ्रेंच क्रान्ति ।

(iii) योरोप में राष्ट्रवाद ।

(iv) औद्योगिक क्रान्ति ।

(v) राजनीति प्रजातन्त्र का उदय ।

(vi) आर्थिक साम्राज्य तथा सैनिकवाद ।

(vii) विज्ञान का विकास ।

(viii) समाजवादी आन्दोलनों का विकास |

(2) पूर्व तथा दक्षिण-पूर्व के कुछ देशों का इतिहास

(i) अफगानिस्तान, बर्मा, लंका, चीन, इण्डोनेशिया, फारस तथा तिब्बत में पाश्चात्य साम्राज्यवाद का एकीकरण (Consolidation)

(ii) उपर्युक्त देशों में राष्ट्रवाद का विकास ।

(iii) जापान में औद्योगिक क्रान्ति तथा जापानी साम्राज्यवाद ।

(3) व्यावहारिक कार्य–पिछले स्तरों के अनुसार।

[कक्षा 10 के लिए]

(1) पाश्चात्य सभ्यता में मुख्य आन्दोलन

(i) अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा तथा विश्वयुद्ध |

(ii) प्रथम विश्वयुद्ध के बाद की दशा ।

(iii) लीग ऑफ नेशन्स ।

(iv) इटली में फासिज्म ।

(v) जर्मन में नाजी तानाशाही ।

(vi) अमेरिका की गतिविधि ।

(vii) अमेरिका की विदेश नीति (1914 से पहले तथा बाद में)।

(viii) द्वितीय विश्वयुद्ध

(ix) संयुक्त राष्ट्र संघ

(x) द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद का विश्व ।

(2) पूर्वी तथा दक्षिण-पूर्व के कुछ देशों का इतिहास

(i) चीन- ब्रिटिश साम्राज्यवाद तथा जापानी साम्राज्यवाद के विरुद्ध संघर्ष, चीन में गृहयुद्ध, प्रथम विश्वयुद्ध तथा साम्यवाद का विकास ।

(ii) जापान – जापान का औद्योगीकरण तथा पाश्चात्यीकरण, रूस से सम्बन्ध, जापानी साम्राज्यवाद, प्रथम विश्वयुद्ध तथा उसका जापान पर प्रभाव |

(3) तत्कालीन भारतीय समस्याएँ

(i) भारत में विज्ञान के विकास का इतिहास |

(ii) भारतीय कृषि का इतिहास तथा उसकी समस्याएँ ।

(iii) भारतीय उद्योग तथा उसकी समस्याएँ ।

(iv) आधुनिक भारतीय भाषाएँ तथा उनकी समस्याएँ ।

(v) भारत में सामाजिक तथा धार्मिक सुधार ।

(vi) आधुनिक भारत में शिक्षा प्रणाली का विकास ।

(vii) विभिन्न राजनैतिक दल, उनका इतिहास, संगठन तथा उनके उद्देश्य ।

(4) व्यावहारिक कार्य- पिछले स्तर की भांति ।

विभिन्न कक्षाओं में इतिहास के पाठ्यक्रम की रूपरेखा जो कि उपयुक्त प्रस्तुत की गई है, वह केन्द्रीय शिक्षा मन्त्रालय के द्वारा किये गये एक अध्ययन के आधार पर दी गई है। इसका अभी राज्यों के शिक्षा मन्त्रालयों ने पूर्ण रूप से पालन नहीं किया है ।

शिक्षाशास्त्र महत्वपूर्ण लिंक

Disclaimer: e-gyan-vigyan.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है। यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- [email protected]

About the author

e-gyan-vigyan Team

Leave a Comment