अर्थशास्त्र

भारत में 11वीं पंचवर्षीय योजना की प्रमुख उपलब्धियाँ | भारत में 11वीं पंचवर्षीय योजना की प्रमुख उपलब्धियों का वर्णन

भारत में 11वीं पंचवर्षीय योजना की प्रमुख उपलब्धियाँ | भारत में 11वीं पंचवर्षीय योजना की प्रमुख उपलब्धियों का वर्णन | Major achievements of 11th five year plan in India in Hindi | Describe the major achievements of the 11th five year plan in India in Hindi

11वीं पंचवर्षीय योजना की प्रमुख उपलब्धियाँ

भारत की ग्यारहवीं पंचवर्षीय योजना को राष्ट्रीय विकास परिषद् (NDC) का अनुमोदन 19 दिसम्बर, 2007 को प्राप्त हो गया था योजना में 9 प्रतिशत की औसत वृद्धि दर (Growth rate) के साथ अन्तिम वर्ष 2011-12 में 10 प्रतिशत वृद्धि का लक्ष्य रखा गया था 9 प्रतिशत वार्षिक विकास के लिए 2007-12 के दौरान कृषि में 4 प्रतिशत तथा उद्योगों व सेवाओं में 9 से 11 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से वृद्धि का लक्ष्य इस योजना में थे।

निर्धनता निवारण, शिद्वा, महिलाओं एवं बच्चों के स्वास्थ्य की स्थिति, आधारिक संरचना व पर्यावरण आदि के मामलों में राष्ट्रीय स्तर पर 27 व राज्यों के लिए 13

तालिका : कुल निवेश में सार्वजनिक क्षेत्र का अंश

(प्रतिशत में)

योजनाएं

प्राप्ति

पाँचवीं योजना (1974-79)

43.3

छठवीं योजना (1980-85)

47.8

सातवीं योजना (1985-90)

45.7

आठवीं योजना (1992-97)

34.7

नौवीं योजना (1997-2002)

29.0

दसवीं योजना (2002-07)

22.0

ग्यारहवीं योजना (2007.12)

21.9

विभिन्न लक्ष्य योजना में निर्धारित किए गए थे योजनावधि में रोजगार के 7 करोड़ नए अवसर सृजित कर निर्धनता अनुपात में 10 प्रतिशत बिन्दु की कमी लाने का लक्ष्य इनमें शामिल था, देश के सभी ग्रामों के विद्युतीकरण का लक्ष्य इस योजना में निर्धारित किया गया था, शिक्षा पर व्यय में भारी वृद्धि 3 11वीं पंचवर्षीय योजना में प्रस्तावित थी।

योजना के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने कहा था कि इस योजना का लक्ष्य विकास को सर्वहितकारी बनना है, उन्होंने बताया कि इस योजना में अल्पसंख्यकों के लिए प्रधानमंत्री की 15 सूत्रीय योजना क्रियान्वित कराने पर बल दिया गया है, साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि अल्पसंख्यक बहुत जिलों में लागू कार्यक्रमों में अल्पसंख्यक-बहुसंख्यक आधार पर कोई भेद नहीं किया जाएगा और लाभान्वितों के लिए गरीबी की रेखा के नीचे की शर्त लागू रहेगी।

ग्यारहवीं योजना के दृष्टिकोण पत्र के प्रमुख बिन्दु निम्नलिखित प्रकार हैं- 1. तीव्रतर विकास के साथ अधिक संहित (Inclusive) संवृद्धि की दुतरफा रणनीति, 2. निर्धनता अनुपात में सन् 2007 तक 5 प्रतिशतांक की तथा सन् 2012 तक 15 प्रतिशतांक की कमी लाना, 3. कम-से-कम ग्यारहवीं योजना में होने वाली श्रम बल वृद्धि को उच्च गुणवत्ता युक्त रोजगार मुहैया कराना, 4. 2001 से 2011 तक के दशक में जनसंख्या संवृद्धि की दशकीय वृद्धि दर को घटाकर 16.2 प्रतिशत के स्तर पर लाना, 5. ग्यारहवीं योजना अवधि में साक्षरता दर को बढ़ाकर 75 प्रतिशत करना, 6. सन् 2012 तक देश के सभी गाँवों में स्वच्छ पेयजल की अविरत पहुँच सुनिश्चित करना, 7. योजनावधि में रोजगार के 7 करोड़ नए अवसर सृजित करना।

उपलब्धियाँ

ग्यारहवीं योजना (2007-12) में 9% औसत वार्षिक वृद्धि दर का लक्ष्य रखा गया था जिसे बाद में संशोधित करके 8.1% कर दिया गया, किन्तु अब 7.9% प्राप्ति का अनुमान लगाया गया है कि कृषि क्षेत्र में विकास दर 4% निर्धारित की गई थी, किन्तु इस योजना के पहले 4 वर्षों (2007-11) के दौरान इस क्षेत्र में हासिल की गई विकास दर लगभग 3.2% रहीं, कृषि क्षेत्र का देश की GDP में योगदान (2004-05) की कीमतों पर लगभग 15.7% और निर्याप्त में 10.23% रहा है, इसके अतिरिक्त कृषि क्षेत्र में लगभग 58.2% लोगों को रोजगार भी मिला, 11वीं योजना मेंके अन्त तक खाद्यान्नों के उत्पादन में कम-से-कम 2 करोड़ टन की वृद्धि के मिशन के अंदाज में राष्ट्रीय सुरक्षा खाद्य मिशन प्रारम्भ किया गया, वर्ष 2011-12 में खाद्यान्न उत्पादन लगभग 250.4 मिलियन टन अनुमानित किया गया, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना प्रारम्भ की गई है, 11 वीं योजना के दौरान इसके लिए रु 25 हजार करोड़ आबंटित किए गए हैं।

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी आधारित सेवा उद्योग देश की अर्थव्यवस्था में निरन्तर विकास में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है, वर्ष 2010-11 में सॉफ्टवेयर और सेवाओं का अनुमानित निर्यात 59 अरब डॉलर का रहा।

अर्थशास्त्र महत्वपूर्ण लिंक

Disclaimer: e-gyan-vigyan.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है। यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- vigyanegyan@gmail.com

 

About the author

Pankaja Singh

Leave a Comment

error: Content is protected !!