शिक्षाशास्त्र

तकनीकी प्रकारों का तुलनात्मक अध्ययन सारणी | Comparative Study Table of Technical Types in Hindi

तकनीकी प्रकारों का तुलनात्मक अध्ययन सारणी | Comparative Study Table of Technical Types in Hindi

तकनीकी प्रकारों का तुलनात्मक अध्ययन सारणी

तुलनात्मक बिन्दु

शिक्षण तकनीकी (Teaching Technology)

अनुदेशन तकनीकी (Instructional Technology)

व्यवहार तकनीकी (Behavioural technology)

1.  जन्मदाता (Exponent)

मौरीसन हर्वाट, डेविड,एवं आदि

बूनर, ग्लेजर, आसुवेल रिकनर आदि।

स्केनर, एमीडन, ब्लेंडर, ओवर आदि।

2.  उद्देश्य (Objectives)

क्षानात्मक, भावनात्मक तथा क्रियात्मक उद्देश्यों का विकास

केवल ज्ञानात्मक उद्देश्य।

क्रियात्मक उद्देश्यों के साथ ही ज्ञानात्मक एवं भावात्मक उद्देश्यों का विकास

3.  प्रणाली (Approach)

पाठ्य-वस्तु एवं सम्प्रेषण (Content & Communication)

मशीन (Physical)

व्यवहार (Behaviour)

4.  तत्व (Components)

पाठ्यवस्तु एवं  सम्प्रेषण तथा शिक्षक एवं छात्र सभी प्रमुख तत्व है।

पाठ्य-वस्तु की संरचना तथा संगठन एवं प्रस्तुतीकरण । (छात्र अधिक सक्रिय तत्व है)

संप्रेषण, छात्र एवं शिक्षकों के बीच सक्रिय अंतःक्रिया विश्लेषण प्रमुख तत्व है।

5. आधार (Foundation)

मनोविज्ञान, समाजशास्त्र, तथा दर्शन एवं वैज्ञानिक आधार।

मनोवैज्ञानिक तथा  वैज्ञानिक आधार।

मनोविज्ञान एवं Cybernetics के सिद्धांत।

6.  व्यवस्था (Organization)

शिक्षक एवं छात्र दोनों के मध्य।

द्रश्य श्रव्य अन्य युक्तियों व्यक्तियों द्वारा।

शिक्षक द्वारा।

7. प्रमुख लक्षण सूचना देना। (Aim)

 सूचना देना।

अपेक्षित व्यवहार परिवर्तन।

प्रभावशाली

8. पाठ्य-वस्तु (Content)

शिक्षण प्रतिमान व सिद्धांत, शिक्षण युक्तियां व नीतियां शिक्षण का नियोजन व्यवस्था मार्गदर्शन तथा नियंत्रण।

कार्य-विश्लेषण, उद्देश्य, पुर्नबलन युक्तियाँ तथा परीक्षण।

शिक्षक- व्यवहार के सिद्धांत, व्यवहार निरीक्षण प्रविधि विश्लेषण एवं शिक्षक व्यवहार में सुधार।

9. शिक्षण स्तर (Levels of  Teaching)

स्मृत, बोध एवं चिंतन।

स्मृति।

स्मृति तथा बोध।

10. शिक्षक का स्थान (Place of Teacher)

प्रबंधक (manager)

सहायक।

गौण।

11. सिद्धान्त (Principle)

शिक्षण-कला व सीखने के सिद्धांत।

लागत प्रक्रिया उत्पादन सिद्धान्त।

सीखने में सिद्धांत-आपरेंट कंडीशनिंग, पुनर्बलन एवं पृष्ठ पोषण आदि।

12.  उदाहरण  (Examples)

स्मृति, बोधकथा चिंतन स्तर पर शिक्षण, शिक्षण व्यवस्था (management of teaching)

स्वत: शिक्षा लीनियर तथा बान्चिंग अभिक्रमित अध्ययन मैथेटिक्स (Mathletics) पत्राचार पाठ्यक्रम तथा ओपिन यूनिवर्सिटी।

माइक्रोटीचिंग तथा मिनीटीचिंग, सीमुलेटेड-सामाजिक कौशल शिक्षण अन्तःक्रिया विश्लेषण, की. समूह प्रशिक्षण, टीम टीचिंग आदि।

13. महत्व (Significance)

(1) शिक्षा को अधिक प्रभावशाली तथा उद्देश्य पूर्ण बनाती है। (2) शिक्षण सिद्धांतों का विकास करती है।

(1) अनुदेशन सिद्धांत का विकास करती है। (2) अनुदेशन प्रक्रिया को उसके ध्येयों के साथ संबंधित करती है।

(1) शिक्षक व्यवहार के सिद्धांत का विकास करती है, व्यवहार में सुधार लाती है।

14. शैक्षिक उपयोग (Educational Implication)

कक्षा शिक्षण का उद्देश्यपूर्ण तथा प्रभावशाली बनाती है।

स्वत: शिक्षा पत्राचार यह पाठ्यक्रम तथा Remedial Teaching में उपयोगी है।

भाग्यशाली शिक्षक बनाने में अत्यंत उपयोगी है।

शिक्षाशास्त्र महत्वपूर्ण लिंक

Disclaimer: e-gyan-vigyan.com केवल शिक्षा के उद्देश्य और शिक्षा क्षेत्र के लिए बनाई गयी है। हम सिर्फ Internet पर पहले से उपलब्ध Link और Material provide करते है। यदि किसी भी तरह यह कानून का उल्लंघन करता है या कोई समस्या है तो Please हमे Mail करे- vigyanegyan@gmail.com

About the author

Pankaja Singh

Leave a Comment

error: Content is protected !!